पकड़ौआ विवाह : क्या जबरन कराई गई शादी हो सकती है सफल ?

बिहार में पकड़ौआ विवाह का चलन नया नहीं हैं. बिहार में इस प्रकार की कई घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी है. बात अगर पकड़ौआ विवाह की करे तो इसमें लड़के का विवाह उसके मर्जी के खिलाफ जबरदस्ती करा दिया जाता है. पकड़ौआ विवाह में लड़को को अपहरण कर शादी करवा दिए जाने की घटना कई बार सामने  चुकी है. बंदूक के बल पर लड़के की मर्जी के खिलाफ शादी करवा दिए जाने की घटना जिसे पकड़ौआ विवाह कहते है. पकड़ौआ विवाह पर बॉलीवुड में फिल्म भी बन चुकी है. पकड़ौआ विवाह मर्जी के खिलाफ करवा दिया जाता है ऐसे में इसके सफल होने की चांस काफी कम होते है क्योकि कहते हैं न कि जोर जबरदस्ती के रिश्ते बहुत दिनों तक नहीं चलते  है. पकड़ौआ विवाह के कई मामले आए दिन सामने आते रहेत हैं.  ताजा मामला बिहार के लखीसराय जिले का है जहां से एक युवक को अगवा कर शादी करा दिए जाने की घटना सामने आई है जिससे लोगों में काफी आक्रोश है. मिली जानकारी के मुताबिक लखीसराय के गंगासराय निवासी मनोज सिंह का 20 वर्षीय पुत्र शिवम कुमार हर दिन की तरह अपने साथियों के साथ दौड़ने के लिए अहले सुबह घर से निकला था लेकिन इसी बीच गंगासराय रेलवे लाइन के किनारे ऑल्टो कार सवार हथियार से लैस पांच अपराधियों ने शिवम को अपने कब्जे मे ले लिया और चलते बने. युवक को अगवा करने के बाद उसकी शादी भी जमुई के किसी मंदिर में करा दी गई, जिसकी तस्वीर भी सामने आई है. पकड़ौआ विवाह की इस घटना के सामने आने के बाद फिर से एक बार सवाल यहीं खड़े हो गए है कि आखिर कब इस पर रोक लगेगी. अगवा कर या दवाब डालकर पकड़ौआ विवाह करवा देने वाले लोग ये नहीं जानते की वो जबरजस्ती शादी तो करवा रहे है पर आगे चलकर पति और पत्नी के रिश्ते में ये बात हमेशा  झगड़ा का कारण बनेगी. पकड़ौआ शादी करवाने वाले लोगों को ये समझना होगा कि उनके द्वार किया गया ये काम गलत है और इससे दो जिंदगिया बरबाद होती है.

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending