ताइवान के वैज्ञानिकों ने किया दावा: लेजर लाइट से कम किया जा सकेगा आर्थराइटिस का दर्द

ताइवान के वैज्ञानिकों की टीम के द्वारा लेजर लाइट से जोड़ों का दर्द ठीक करने के लिए प्रयास चल रहा है। दरअसल इसका ट्रायल वैज्ञानिक के द्वारा घुटनों के दर्द से जूझ रहे 20 मरीजों पर किया जा रहा है। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि लेजर लाइट की रोशनी सूरज के मुकाबले 100 गुना ज्यादा चमकदार होता है। उनका मानना है कि आर्थराइटिस के मरीजों के लिए यह काफी फायदेमंद हो सकता है और इसकी मदद से जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी के खतरा को भी घटाना संभव है। लेजर लाइट से घट रहा है दर्दसबसे पहले मरीज के हाथों की नस में कैथेटर की मदद से लेजर लाइट डाली जाती है फिर नस में कैथेटर डालने के बाद 60 मिनट के लिए लेजर लाइट ऑन करते हैं। इस प्रक्रिया को दिन में एक बार करते हैं और यह कोर्स 5 दिनों तक लगातार चलता है।वैज्ञानिकों का मानना है कि इस प्रक्रिया को करने से पूरी बॉडी में ब्लड का सर्कुलेशन बढ़ जाता है और शरीर में पोषक तत्वों और ऑक्सीजन का सर्कुलेशन बढ़ने से जोड़ों में डैमेज हुए टिश्यु रिपेयर होने लगते हैं। जिससे जोड़ों में होने वाली सूजन में कमी होने लगती है।वैज्ञानिकों ने बताया कि इलाज के इस नए तरीके से बॉडी में स्टेम सेल रिलीज होती है जो नए ऊतकों को तैयार करने में मदत करती है।ऑस्टियोआर्थराइटिस के मरीजों को क्यों होता है दर्दवैज्ञानिकों के द्वारा दावा किया गया है कि इस तकनीक से ऑस्टियोआर्थराइटिस के मरीजों को जल्दी राहत मिल सकती है। ऑस्टियोआर्थराइटिस आर्थराइटिस का ही एक प्रकार है, जिस बीमारी में जोड़ों के किनारों पर मौजूद कार्टिलेज धीरे-धीरे डैमेज होने लगता है और जोड़ों में दर्द होने की यह मुख्य वजह है। पेनकिलर्स और एंटी-इंफ्लेमेट्री ड्रग के द्वारा इसका इलाज किया जाता है। कुछ परिस्थितियों में इंजेक्शन भी दिए जाते हैं।लिए जा रहे हैं ब्लड सैम्पल रिसर्च के बाद अब वैज्ञानिकों के द्वारा मरीजों पर ट्रायल चल रहा है। ताइवान के ट्राई सर्विस जनरल हॉस्पिटल में इसका ट्रायल चल रहा है जिसके लिए मरीजों के ब्लड सैम्पल लिए जा रहे हैं। इसके लिए अलग-अलग ग्रुप में तीन दिन, एक महीने और तीन महीने थैरेपी देने के बाद लेजर लाइट के असर का विश्लेषण किया जा रहा है। इसके अलावा दर्द का स्तर और जोड़ों के मूवमेंट में दिखने वाले असर का भी पता करने पर काम किया जा रहा है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending